सुबह धरती पर पेर रखने से पहले लक्ष्मी रुपी धरती माँ को प्रणाम करें ,धरती माँ जिनके वस्त्र समुद्र की लहरें हैं , पर्वत जिनके स्तनमण्डल हैं , जो भगवान विष्णु की पत्नी हैं | धरती माँ पर पेर रखने से पहले पुत्र भाव से उनसे श्रमा मांगे जिससे माता लक्ष्मी की कृपा दिन भर बानी रहती है |
Earlier than placing our toes on the bottom within the morning, we must always bow down and apologize to Goddess Earth, a type of Goddess Lakshmi. Oceans are her clothes, Mountains are her bosom, She is the consort of Lord Vishnu. Chant this Mantra to hunt an apology from Goddess Earth for conserving our toes on her to be able to obtain her blessings all day lengthy.
Music Credit : Surya Raj Kamal | © Sagar World Multimedia
All Rights Reserved.

source